बेटी के लिए सुलह को तैयार शमी, पहले पति से हसीन की हैं दो बेटियां

न्यूज़ स्पेशल, कोलकाता : क्रिकेटर मोहम्मद शमी अपनी इकलौती बेटी के लिए सारी कड़वाहटें भूल कर हसीन जहां से समझौता करना चाहते हैं. लेकिन यह कम लोग ही जानते हैं कि हसीन जहां की वह इकलौती संतान नहीं है. हसीन की पहली शादी से बी दो बेटियां हैं जिनमें से एक सोलह साल की है तो दूसरी बारह साल की. हसीन जहां के पूर्व पति शेख सैफ़ुद्दीन पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले में रहते हैं. मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि वर्ष 2002 में हसीन जहां से लव मैरिज की थी. सैफुद्दीन पश्चिम बंगाल के बीरभूम में स्टेशनरी की दुकान चलाते हैं. सैफुद्दीन ने मीडिया को बताया कि स्कूल के दिनें में ही उन्हें हसीन से प्यार हो गया था और 2002 में दोनें ने शादी कर ली. हसीन जहां ने दो बेटियों को जन्म दिया. एक बेटी 10वीं में है वहीं दूसरी छठी क्लास में पढ़ती है. साल 2010 में उनका तलाक हो गया.

हसीन भी हुईं पर शमी से माफी मंगवाने पर अड़ी

क्रिकेटर मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां ने शमी से सुलह पर कहा कि फिलहाल सुलह की बात मैं नहीं जानती, हम लोगों की लड़ाई दूर जा चुकी है. अगर कोई सुलह की बात आती है तो कहा जाएगा कि मेरे आरोप गलत थे. मैं अपना घर बचाने की कोशिश कर रही हूं, अगर शमी सच में घर बचाना चाहते हैं और मेरी बच्ची की फिक्र उनमें है तो मैं जरूर सोचूंगी. उन्होंने कहा कि शमी खुद को आरोपों से बचाने के लिए सब कुछ कर रहा है

फोन मिलते ही शमी ने बदला सुर

हसीन ने कहा कि शमी तो मुझे छोड़कर यूपी जा रहा था. उसका फोन मुझे नहीं मिला होता तो आज की तारीख में वो मुझे तलाक दे चुका होता है. उसे जब पता चला कि बीएमडब्लू कार में रखा उसका फोन मुझे मिल गया है जिसमें सारे सबूत हैं, तो उसके बाद शमी के बर्ताव में बदलाव आ गया. मैंने अपनी दोस्त के जरिए शमी को कई बार समझाने की कोशिश की, लेकिन वो नहीं माना. मैंने रिश्ता बचाने की पूरी कोशिश की. शमी को 4 साल से समझा रही थी. सोशल मीडिया पर उनकी चैट डालने से पहले भी गलती मानने को कहा था. शमी के खिलाफ सबूत मिलने के बाद जब मैंने उससे सवाल किए तो उसने फोन उठाना बंद कर दिया, वो मुझे नजरअंदाज करता रहा.

पत्नी से माफी मांगने को भी तैयार

शमी ने कहा कि अगर ये मामला बातचीत से सुलझ सकता है तो इससे बेहतर कुछ नहीं. हमारे और हमारी बेटी के लिए विवाद का निपटना ही अच्छा है. अगर इस मामले को सुलझाने के लिए मुझे कोलकाता भी जाना पड़े तो मैं जाउंगा. वो (हसीन) जब चाहे मैं बात करने के लिए तैयार हूं. मैं पत्नी के साथ बैठकर इस प्रॉब्लम को खत्म करने के लिए बात करूंगा. अगर मुझे पत्नी और बेटी को सॉरी भी बोलना पड़े, तो इसमें कोई गुरेज नहीं. इसके साथ ही शमी ने कहा कि उनके परिवारवाले दो दिनों से कोलकाता गए हुए हैं. वे लोग हसीन से बातकर मनाने की कोशिश कर रहे हैं. मैं चाहता हूं कि मेरा परिवार दोबारा पटरी पर लौट आए और हम लोग हंसी खुशी एक साथ रहे. मो. शमी ने कहा कि कुछ लोग दूसरों की कामयाबी से जलते हैं. शायद इसमें किसी बाहरी शख्स की चाल हो. यह एक मुश्किल दौर है, जिसमें मैं फैमली के साथ ही रहना चाहता हूं. क्रिकेटर शमी ने कहा कि हमने साथ में होली मनाई थी. कुछ दिन पहले साउथ अफ्रीका टूर पर शॉपिंग के लिए गए थे और ज्वेलरी खरीदी थी. मामले में जिस नंबर का जिक्र हो रहा है, वो मेरा नहीं है. ना फोन मेरा है और ना ही मैंने किसी से बात की.

रेप के आरोप भी लगाया था

हसीन ने शुक्रवार को रेप के आरोप भी लगाया था. कहा था कि मुझे कहीं से कोई मदद नहीं मिली, इसके बाद मैंने फेसबुक के जरिए आपबीती लोगों को बताई. मेरी इजाजत के बगैर फेसबुक ने क्यों अकाउंट और फोटो डिलीट कर दिए? वहीं गुरुवार को हसीन ने आरोप लगाया कि शमी पाकिस्तानी लड़की और इंग्लैंड के बिजनेसमैन के साथ मिलकर मैच फिक्स करते थे. वह उन्हें तो क्या पूरे देश को धोखा दे सकते हैं, शमी ने फिक्सिंग के लिए दुबई में एक लड़की से रुपए लिए थे. हालांकि, कथित पाकिस्तानी लड़की का नाम सामने नही आया है.

यह है पूरा मामला?

शमी की पत्नी हसीन जहां ने मंगलवार को अपने फेसबुक अकाउंट पर कई फोटोज शेयर करते हुए उन पर लड़कियों के साथ अवैध संबंध रखने का आरोप लगाया. हसीन ने शमी और उन लड़कियों के बीच हुई वॉट्सऐप चैट के स्क्रीनशॉट भी शेयर किए हैं. हसीन ने कराची की एक कथित प्रॉस्टीट्यूट की तस्वीरें भी डालीं और उसके साथ शमी की चैट के स्क्रीनशॉट भी पोस्ट कीं. इसमें एक फेसबुक चैट करीब डेढ़ साल पुरानी (अक्टूबर 2016) की है. एक फोटो में शमी किसी महिला के साथ खड़े नजर आए. उसे भी शमी की ‘गर्लफ्रेंड’ बताया गया. हालांकि, अब हसीन का ये फेसबुक अकाउंट डिलीट हो गया है. जिसके जरिए ये सभी पोस्ट की गई थीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>