मढ़ौरा, कार्यकर्ता के घर पहुंच मुख्यमंत्री ने दिया श्रद्धांजलि

# स्वर्गीय कार्यकर्ता के याद में सीएम लगाया पौधा

मढ़ौरा (सारण) प्रखंड के धेनुकी निवासी जदयू के पुराने कार्यकर्ता स्व राजेन्द्र सिंह के घर मंगलवार को पहुँच । मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उन्हें श्रद्धांजलि दी । किसी कार्यकर्ता के लिए करीब 80 किलोमीटर की दूरी ढाई घण्टे में तय कर मढ़ौरा पहुंचे सीएम ने पहले स्व राजेन्द्र सिंह के चित्र पर माल्यार्पण कर
मुख्यमंत्री ने श्रद्धांजलि अर्पित किया । इसके बाद स्व. राजेन्द्र सिंह के परिजनों से मुलाकात कर सबका कुशलता जानि । घर की सभी महिलाओं और बच्चों से मिलकर सीएम ने कहा कि जब भी इस परिवार को मेरी जरूरत पड़ेगी उसके लिए नीतीश कुमार का दरवाजा हमेशा खुला रहेगा । सीएम करीब 19 मिनट तक गामा सिंह के घर रहने के बाद 12 बजकर 20 मिंनट पर वापस पटना निकल गए। सीएम तीसरी बार स्वं राजेन्द्र सिंह के घर आये थे। इससे पहले मार्च 2014 और मार्च 2018 में उनके जिंदा रहते आये थे और फिर राजेन्द्र बाबू के निधन के बाद 13 अगस्त को उनका कार्यक्रम में हेलीकॉप्टर से आने का था लेकिन ससुर के निधन के कारण यह कार्यक्रम स्थगित हो गया था। इस बार वे अपने कार्यकर्ता के लिए सड़क मार्ग से आये यह बड़ी बात है। जेडीयू नेता शैलेन्द्र प्रताप ने कहा कि कार्यकर्ताओ में विशेष उत्साह दिख रहा है। किसी कार्यकर्ता के निधन के बाद ढाई घण्टे गाड़ी से सफर कर परिजनों से सिर्फ मुलाकात करने के लिए सीएम नीतीश कुमार जैसा व्यक्ति ही आ सकता है। इधर सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम को लेकर जिला प्रशासन काफी चुस्त दुरुस्त व्यवस्था की थी। मंगलवार को भी कार्यक्रम सीएम का पहले हेलीकॉप्टर से ही बना था लेकिन बाद में उनके व्यक्तिगत निर्णय की वजह से सड़क मार्ग किया गया।। मुख्यमंत्री के घर आने आह्लादित स्व राजेन्द्र सिंह के पुत्र प्रखंड जदयू अध्यक्ष गामा सिंह ने कहा कि सीएम एक कार्यकर्ता को श्रद्धांजलि देने के लिए पटना से मढ़ौरा आये यह सभी कार्यकर्ताओं के लिए सम्मान की बात है।

IMG-20180821-WA0018
परिजनों से मिलने के बाद मुख्यमंत्री ने स्व राजेन्द्र सिंह के दरवाजे पर उनकी याद में पौधा रोपण किया l मुख्यमंत्री के स्वागत में पूर्व मंत्री गौतम सिंह पूर्व विधायक छोटेलाल राय , लालबाबू राय, छोटे लाल राय वैधनाथ सिंह विकल, शैलेन्द्र प्रताप ,सिंगज जदयु नेत्री राखी कुशवाहा, कामेश्वर सिंह, भाजपा नेता राकेश सिंह, अधिवक्ता संजय सिंह सहित सैकड़ो कार्यकर्ता थे l

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>