स्टेट टापर की पढ़ाई में रूकावट बनी थी ग़रीबी , सरकार ने दिया मदद

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

स्टेट टापर की पढ़ाई में रूकावट बनी थी ग़रीबी , सरकार ने दिया मदद

न्यूज स्पेशल डेस्क :मशरक मुख्यालय स्थित राजकीय कृत उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय से पिछले सत्र 2018 में इन्टर कला(आर्ट) की बोर्ड परीक्षा मे स्टेट टाॅपर के चौथे रैंक पर रही रितिका कुमारी पिता- संजय सिंह गांव- रसौली थाना- पानापुर की निवासी हैं जिसके पिता संजय सिंह पेशे से किसान हैं। रितिका जब अपने स्कूल में राज्य टाॅपर की चौथी रैंक में आई तो तब पूरे क्षेत्र में खुशी की लहर दौड़ गई थी। बधाई देने वालों का तांता लग गया था, पर रितिका की आगे की पढ़ाई पर गरीबी के कारण ग्रहण लग गया था। उसकी अभिलाषा आगे पढ़कर आइएएस बनने की टूटकर कर बिखड़ गई। उसके स्कूल के प्राचार्य अरूण कुमार वर्णवाल को जब इस बात की जानकारी हुई, तो उन्होंने उसके गांव जाकर उसके पिता संजय सिंह को समझाया, पर उसके पिता रुपये के अभाव में आगे की पढ़ाई पर सहमत नहीं हुए, तो प्राचार्य अरूण कुमार वर्णवाल ने मुख्यमंत्री स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड के बारें में बताया कि बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड स्कीम का लाभ ऐसे विधार्थी उठा सकते हैं जो गरीबी या और किसी कारण से आगे की पढ़ाई नहीं कर सकते हैं। जो लड़के-लड़किया उच्च शिक्षा पाने की लालसा रखते है पर पैसे की कमी के चलते कुछ करने की उनकी हसरत दम तोड़ देती हैं उनकीं मदद के लिए बिहार सरकार ने यह योजना शिक्षा वित विभाग के माध्यम से मुख्यमंत्री स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड से पढ सकते हैं। प्रभारी प्राचार्य के बातों से सहमत होकर रितिका के पिता ने इस योजना से 25000 रुपये लेकर बेटी रितिका के सपनों को पंख दिया।

SANJAY KUMAR OJHA

Journalist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
error: Content is protected !!