सारण:जनता बाजार में फगुनहट में आज बहेगा मनीषा एवं गोप के गीतों का रंग,श्री ढोढनाथ मंदिर प्रांगण में आयोजित होगा कार्यक्रम

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सारण:जनता बाजार में फगुनहट में आज बहेगा मनीषा एवं गोप के गीतों का रंग,श्री ढोढनाथ मंदिर प्रांगण में आयोजित होगा कार्यक्रम

न्यूज स्पेशल डेस्क,लहलादपुर : भोजपुरी भारती साहित्यिक सांस्कृतिक मंच द्वारा प्रखंड मुख्यालय स्थित ढोढ़स्थान, जनता बाजार मंदिर परिसर में कवि सम्मेलन सह सांस्कृतिक कार्यक्रम ‘फगुनहट’ का आज आयोजन किया जा रहा है जिसमें कई नामचीन कवियों के साथ लोक गायिका मनीषा श्रीवास्तव एवं लोक गायक रामेश्वर गोप के होली गीतों की प्रस्तुति होगी।
इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विधान पार्षद डाॅ० बीरेन्द्र नरायण यादव हैं तो वहीं विशिष्ट अतिथियों में डाॅ० लालबाबु यादव, राघवेन्द्र कुमार (बीडीओ लहलादपुर), जितेन्द्र वर्मा (साहित्यकार), डाॅ० जयकान्त सिंह ‘जय’ संतोष कुमार यादव (अधिवक्ता- सुप्रीम कोर्ट) व सुमित श्रीवास्तव हैं। कवियों में छपरा के अलावे आरा, मुजफ्फरपुर, सिवान, गोपालगंज, बलिया आदि जगहों से एक से बढ के एक कवि शिरकत कर रहे हैं। इस अवसर पर रामाज्ञा सिंह ‘विकल’ सुनेश्वर प्रसाद निर्भय व चन्द्रदेव प्रसाद बेजोड़ रचित पुस्तकों का लोकार्पण भी किया जाएगा।
सांस्कृतिक कार्यक्रम में पटना से आ रहीं लोक गायिका मनीषा श्रीवास्तव पारम्परिक एवं पाश्चात्य होली गीतों से श्रोताओं का मनोरंजन करेंगी तो वहीं लोक गायक रामेश्वर गोप पारम्परिक खांटी फगुआ गीतों की प्रस्तुति देंगे। विदित हो कि मनीषा श्रीवास्तव भोजपुरी के लोक व पारम्परिक गीतों को गाने एवं उसे संग्रहित करने का काम कर रही हैं। वे लोक में गाँधी को खोजने के लिए पुरे बिहार के दौरे पर हैं जिसमें जिले के एकमा के रहने वाले लोक गायक रामेश्वर गोप भी शामिल हैं। कुल मिलाकर इस भव्य आयोजन में कवियों समेत मनीषा एवं गोप के आवाज में शाब्दिक रंगो का बयार ‘फगुनहट’ बहेगा। इस कार्यक्रम का संयोजक फिल्म अभिनेता व कवि अभिषेक भोजपुरिया हैं जबकि अध्यक्ष मुंगालल शास्त्री हैं। इस कार्यक्रम का सहयोग भोजपुरी जन जागरण अभियान कर रहा है जो भोजपुरी भाषा को संवैधानिक मान्यता दिलाने के लिए अनवरत आंदोलन करते हुए सरकार से मांग कर रहा है।

SANJAY KUMAR OJHA

Journalist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
error: Content is protected !!