जनता बाजार थाने पर शव के साथ ग्रामीणों का प्रदर्शन

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

तीन दिन पहले हुई थी पप्पू की हत्या

सड़क पर आगजनी कर लोगों ने किया सड़क जाम

संजय कुमार ओझा,लहलादपुर:चार दिन पुराने पप्पू राम के शव के साथ रविवार को दंदासपुर गांव के दलित बस्ती के लोगों ने जनता बाजार थाने के समक्ष रोषपूर्ण प्रदर्शन किया।लोगों ने सात बजे से लेकर दोपहर बारह बजे तक थाना चौक पर टायर जलाकर जनता बाजार महराजगंज मुख्य पथ को लगभग पांच घंटे तक जाम रखा।लोगों के आक्रोश को देखते हुए बनियापुर,सहाजीतपुर और एकमा थाने की पुलिस भी मौके पर पहुंची और लोगों को समझाने का प्रयास किया,लेकिन लोग नही माने।पप्पू के परिजन एसपी और डीएसपी को बुलाने की जीद पर अड़े थे।लोगों का कहना था कि जबतक एसपी और डीएसपी नही आएंगे तबतक शव का दाह संसकार नही किया जाएगा।वही मृतक के परिजन पप्पू के मामले की निष्पक्ष जांच की मांग कर रहे थे।
इस संबंध में बताया जाता है कि जनता बाजार थाना क्षेत्र के दंदासपुर गांव के फेकु राम के 27 वर्षीय पुत्र पप्पू राम का शव शुक्रवार को गांव मे ही सड़क के किनारे पुलिस के द्वारा बरामद किया गया था।चार रोज पुराने शव के साथ ग्रामीण एक बार फिर रविवार को सड़क पर उतर आए।लोग शव को ट्रैक्टर की ट्राली पर लादकर थाने लाए थे।और शव के साथ ही ट्रैक्टर को बीच सड़क पर खड़ा कर यातयात बाधित कर दिया।
लोगों का आरोप था कि पुलिस सही तरिके से मामले की जांच न करके सिर्फ कागजी कार्रवाई पुरी कर रही है।लोगों की नराजगी जनता बाजार थाना पुलिस के साथ साथ सदर एसडीपीओ पर भी थी।प्रदर्शनकारियों का कहना था कि शव बरामदगी के बाद सदर डीएसपी जनता बाजार थाने पर आये और घटनास्थल पर गए लेकिन मृतक के परिजनों के घर पर जाकर कोई पुछताछ नही की।मौके पर पहुंचे एकमा इंस्पेक्टर वीपी आलोक,बीडीओ राघवेंद्र कुमार, प्रमुख पति जितेंद्र सोनी आदि ने लोगों को समझा बुझाकर जाम हटवाया।पुलिस ने लोगों को आश्वासन दिया कि शव बरामदगी के कुछ ही घंटों के बाद नामजद आरोपी रोहित को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था।वही मामले की जांच चल रही है।मामले के जांच के क्रम में पप्पू के हत्या में जिसकी भी संलिप्तता होगी उसको बख्शा नही जाएगा।इंस्पेक्टर के आश्वासन के बाद प्रदशर्नकारी जाम हटाने और शव का दाह संस्कार करने को राजी हुए।

शव के दाह संस्कार के लिए बड़े भाई को हो रहा था इंतजार

लहलादपुर:शुक्रवार को शव मिलने के बाद पुलिस के पोस्टमार्टम कराकर पप्पू के शव को शुक्रवार को ही परिजनों को सौंप दिया था।लेकिन रविवार तक परिजनों ने शव का दाह संस्कार नहीं किया था।परिजनों के द्वारा पप्पू के बड़े भाइ शंकर के आने का इंतजार किया जा रहा था।पप्पू का भाइ दुसरे प्रदेशो में नौकरी करता है।वह शनिवार शाम में ही घर पहुंच गया था।रविवार सुबह दाह संस्कार की तैयारी भी हो चुकी थी,लेकिन आचानक शव के साथ थाने के सामने लोगों ने प्रदर्शन करना शुरू कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *